चुपके चुपके रात दिन Chupke Chupke Raat Din Lyrics – Nikaah | Ghulam Ali
चुपके चुपके रात दिन Chupke Chupke Raat Din Lyrics – Nikaah | Ghulam Ali

चुपके चुपके रात दिन Chupke Chupke Raat Din Lyrics – Nikaah | Ghulam Ali

Spread the love
  • 2
    Shares

Chupke Chupke Raat Din song lyrics in Hindi, English. The song is from the movie Nikaah. The song is sung by Gulam Ali. The music for the song is given by Ravi. The lyrics for the song Chupke Chupke Raat Din are written by Hassan Kamaal.

Song Details

Chupke Chupke Raat Din Lyrics – Nikaah

apanii aawaaz kii larzish pe to qaabuu paa lo
pyaar ke bol to honthon se nikal jaate hain
apane tewar to sambhaalo ke ko_ii ye na kahe
dil badalate hain to chehare bhii badal jaate hain

chupke chupke raat din aansuu bahaanaa yaad hai

ab main samajhaa tere rukasaar pe til kaa matalab
daulat-e-husn pe darabaan bithaa rakhaa hai
gar siyaah-baKt hii honaa thaa nasiibon men mere
zulf hotaa tere ruKasaar pe yaa til hotaa

chupke chupke raat din aansuu bahaanaa yaad hai
hamako ab tak aashiqii kaa wo zamaanaa yaad hai

tujhase milate hii wo kuchh bebaak ho jaanaa meraa
aur teraa daanton men wo ungalii dabaanaa yaad hai

chorii chorii hamase tum aa kar mile the jis jagah
muddaten guzarein par ab tak wo Thikaanaa yaad hai

dopahar kii dhuup me.n mere bulaane ke liye
wo teraa koThe pe nange paanv aanaa yaad hai

khainch lenaa wo meraa parde kaa konaa dafatan
aur dupatte se teraa wo munh chhupaanaa yaad hai

tujhako jab tanhaa kabhii paanaa to az-raah-e-lihaaz
haal-e-dil baaton hii baaton mein jataanaa yaad hai

aa gayaa gar wasl kii shab bhii kahiin zikr-e-firaaq
wo teraa ro ro ke bhii mujhako rulaanaa yaad hai

baa hazaaraan iztiraab, yaan sad-hazaaraan ishtiyaak
tujhako wo pahale-pahal dil kaa lagaanaa yaad hai

jaan kar honaa tujhe wo kasad-e-paa-bosii meraa
aur teraa thukaraa ke sar wo muskuraanaa yaad hai

ALSO READ  कोका Koka Lyrics – Khandaani Shafakhana | Jasbir Jassi | Badshah | Dhvani Bhanushali

jab sivaa mere tumhaaraa koii diiwaanaa na thaa
sach kaho kuchh tumako ab bhii wo zamaanaa yaad hai

Gair kii nazaron se bach kar sabakii marzii ke kilaaf
wo teraa chorii chhipe raaton ko aanaa yaad hai

dekhanaa mujhako jo baragashtaa sau naaz se
jab manaa lenaa to phir khud ruuth jaanaa yaad hai

shauq mein mehandii ke wo be-dast-o-paa honaa teraa
aur meraa wo chhedanaa wo gudagudaanaa yaad hai

चुपके चुपके रात दिन गीत के बोल हिंदी में – सूरज पे मंगल भारी

चुपके चुपके रात दिन गाने के बोल हिंदी, अंग्रेजी में। गाना फिल्म निकाह का है। गाने को गुलाम अली ने गाया है। गाने का संगीत रवि ने दिया है। गीत चुपके चुपके रात दिन गीत हसन कमाल द्वारा लिखे गए हैं।

गाने के बोल

हूँ आ आ हुम्म्म हूँ…
चुपके चुपके रात दिन आँसू बहाना याद है
चुपके चुपके रात दिन आँसू बहाना याद है
हम को अब तक आशिकी का वो ज़माना याद है
चुपके चुपके रात दिन आँसू बहाना याद है
तुझ से मिलते ही वो कुछ बेबाक हो जाना मेरा
तुझ से मिलते ही वो कुछ बेबाक हो जाना मेरा
और तेरा दांतों में वो उंगली दबाना याद है
हम को अब तक आशिकी का वो ज़माना याद है
चुपके चुपके रात दिन..

चोरी-चोरी हम से तुम आ कर मिले थे जिस जगह
चोरी-चोरी हम से तुम आ कर मिले थे जिस जगह
मुद्दतें गुजरीं पर अब तक वो ठिकाना याद है
हम को अब तक आशिकी का वो ज़माना याद है
चुपके चुपके रात दिन..

खैंच लेना वो मेरा परदे का कोना दफ्फातन
खैंच लेना वो मेरा परदे का कोना दफ्फातन
और दुपट्टे से तेरा वो मुंह छुपाना याद है
हम को अब तक आशिकी का वो ज़माना याद है
चुपके चुपके रात दिन..

तुझ को जब तनहा कभी पाना तो अज राह-ऐ-लिहाज़
तुझ को जब तनहा कभी पाना तो अज राह-ऐ-लिहाज़
हाल-ऐ-दिल बातों ही बातों में जताना याद है
हम को अब तक आशिकी का वो ज़माना याद है
चुपके चुपके रात दिन..

ALSO READ  तुम पास आये Tum Paas Aaye | Kuch Kuch Hota Hai | Udit Narayan | Alka Yagnik

आ गया गर वस्ल की शब् भी कहीं ज़िक्र-ए-फिराक
आ गया गर वस्ल की शब् भी कहीं ज़िक्र-ए-फिराक
वो तेरा रो-रो के भी मुझको रुलाना याद है
हम को अब तक आशिकी का वो ज़माना याद है
चुपके चुपके रात दिन..

दोपहर की धुप में मेरे बुलाने के लिए
दोपहर की धुप में मेरे बुलाने के लिए
वो तेरा कोठे पे नंगे पांव आना याद है
हम को अब तक आशिकी का वो ज़माना याद है
चुपके चुपके रात दिन..

गैर की नज़रों से बचकर सब की मर्ज़ी के ख़िलाफ़
गैर की नज़रों से बचकर सब की मर्ज़ी के ख़िलाफ़
वो तेरा चोरी छिपे रातों को आना याद है
हम को अब तक आशिकी का वो ज़माना याद है
चुपके चुपके रात दिन..

बा हजारां इस्तिराब-ओ-सद-हजारां इश्तियाक
बा हजारां इस्तिराब-ओ-सद-हजारां इश्तियाक
तुझसे वो पहले पहल दिल का लगाना याद है
हम को अब तक आशिकी का वो ज़माना याद है
चुपके चुपके रात दिन..

बेरुखी के साथ सुनना दर्द-ऐ-दिल की दास्तां
बेरुखी के साथ सुनना दर्द-ऐ-दिल की दास्तां
वो कलाई में तेरा कंगन घुमाना याद है
हम को अब तक आशिकी का वो ज़माना याद है
चुपके चुपके रात दिन..

वक्त-ए-रुखसत अलविदा का लफ्ज़ कहने के लिए
वक्त-ए-रुखसत अलविदा का लफ्ज़ कहने के लिए
वो तेरे सूखे लबों का थर-थराना याद है
हम को अब तक आशिकी का वो ज़माना याद है
चुपके चुपके रात दिन..

गीत का विवरण

  • सांग: चुपके चुपके रात दिन
  • मूवी: निकाह
  • सिंगर: गुलाम अली
  • म्यूजिक: रवि
  • लिरिक्स: हसन कमाल
  • म्यूजिक लेबल: वीनस वर्ल्डवाइड एंटरटेनमेंट पवत ल्टड

Watch Now the Music Video of the song Chupke Chupke Raat Din from the movie Nikaah

The Full Lyrics in Hindi, English for the song Chupke Chupke Raat Din from the movie Nikaah (1982). If you have any suggestions or want to suggest any change to the lyrics, please contact us.

Find other super hit Bollywood Song Lyrics here.

Comment below and Like & Share, if you liked the post or want to suggest any change or you don’t find any song’s lyrics. Thanks! 🙂


Spread the love
  • 2
    Shares
  • 2
    Shares

Leave a Reply